विज्ञापन
Home  mythology  lord ram and kinnar story why did lord ram bless the kinnars know the mythological story

Lord Ram And Kinnar Story: भगवान राम ने क्यों दिया किन्नरों को आशीर्वाद , जानिए पौराणिक कथा

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Wed, 26 Jun 2024 11:43 AM IST
सार

Lord Ram And Kinnar Story: हिन्दु धर्म में  किन्नरों को हर शुभ मौके पर बुलाया जाता है कहा जाता है इनकी दुआ कभी खाली नहीं जाती। लेकिन जैसे इनकी दुआ खाली नहीं जाती उसी प्रकार इनकी बद्दुआ भी कभी खाली नहीं जाती है

भगवान राम
भगवान राम- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Lord Ram And Kinnar Story: हिन्दु धर्म में  किन्नरों को हर शुभ मौके पर बुलाया जाता है कहा जाता है इनकी दुआ कभी खाली नहीं जाती। लेकिन जैसे इनकी दुआ खाली नहीं जाती उसी प्रकार इनकी बद्दुआ भी कभी खाली नहीं जाती है। किन्नर शादी,ब्याह जैसे  शुभ कार्यों में आकर नेग मांगते हैं और दुआ देते हैं। लेकिन लोगों  के मन में ये सवाल आता है कि किन्नरों के पास लोगों को आशीर्वाद देने की शक्ति कहां से आई। आपको बता दें कि ये बात रामायण से जुड़ी है। चलिए आपको इस सवाल का जवाब देते हैं  
विज्ञापन
विज्ञापन

किन्नरों ने क्यों किया था 14 साल तक श्रीराम का इंतजार

आपको बता दें कि जब भगवान राम माता सीता और लक्ष्मण के साथ  14 साल के लिए वनवास जा रहे थे तब पूरी अयोध्या नगर के वासी उन्हें छोड़ने के लिए आई थी जिसमे किन्नर समुदाय भी शामिल था। कोई भी भगवान राम को वनवास नहीं जाने देना चाहता था ।सभी उनके पीछे-पीछे चल रहे थे ये सब देखकर भगवान राम ने सभी लोगों से प्रेम पूर्वक कहा कि अयोध्य़ा के सभी नर- नारी अपने- अपने घर को वापस लौट जाए 14 साल बाद हमारी दोबारा मुलाकात होगी। भगवान राम की ये बातें सुनकर सभी नर- नारी वापस अयोध्या वापस चले गए। लेकिन किन्नर समाज वहीं खडे़ होकर  14 साल तक राम जी का इंतजार करते रहे ।

विज्ञापन

 

भगवान राम ने क्यों दिया किन्नरों को आशीर्वाद 

लंका पर विजय पाने के बाद जब श्रीराम अयोध्या वापस लौटें तो किन्नरों को उसी स्थान पर पाया जहां उन्होंने छोड़ा था। ये सब देखकर भगवान राम बहुत ज्यादा भाव-विभोर हो गए। और उनसे बहुत प्रसन्न हुए और प्रसन्न होकर भगवान राम उन किन्नरों को आशीर्वाद दिया। आशीर्वाद देते हुए भगवान राम ने कहा की उनका दिया हुआ आशीर्वाद हमेशा पूरा होगा उनका दिया हुआ आशीर्वाद कभी खाली नहीं जाएगा । जिसका असर आज भी देखने को मिलता है। यही कारण है कि किन्नरों के आशीर्वाद का आज भी इतना महत्व है 

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय

विज्ञापन