विज्ञापन
Home  dharm  vrat  sawan 2024 start date and end date how to worship lord shiva pujan vidhi monday fast

Sawan 2024 Puja Vidhi: सावन में घर पर कैसे करें सरल विधि से शिव पूजा, भोलेनाथ दूर करेंगे सारे कष्ट

जीवांजलि धर्म डेस्क Published by: निधि Updated Sun, 23 Jun 2024 08:20 AM IST
सार

इस बार सावन का पवित्र महीना 22 जुलाई 2024 से शुरू होने जा रहा है। ऐसे में सावन के महीने में शिव की पूजा कैसे करें ताकि शिव कृपा का अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

Sawan 2024
Sawan 2024- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Sawan 2024 : महादेव को प्रसन्न करने और उनकी कृपा पाने के लिए सावन का महीना सबसे खास समय होता है। हिंदू पंचांग के अनुसार सावन का महीना पांचवां महीना होता है। यह महीना भगवान शिव को सबसे प्रिय महीना होता है। सावन के महीने में भगवान शिव का जलाभिषेक करने और उनकी विधि-विधान से पूजा करने का विशेष महत्व होता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, सावन के इसी महीने में माता पार्वती ने कठोर तपस्या कर भगवान शिव को पति के रूप में प्राप्त किया था। सावन के महीने में सोमवार व्रत रखने और महादेव की विशेष पूजा करने का महत्व होता है। सावन के महीने में जहां विवाहित महिलाएं अपने वैवाहिक जीवन को सुखमय और समृद्ध बनाने के लिए व्रत और पूजा करती हैं, वहीं अविवाहित महिलाएं अच्छे वर की कामना के लिए सावन सोमवार व्रत रखकर भोले भंडारी की पूजा करती हैं। इस बार सावन का पवित्र महीना 22 जुलाई 2024 से शुरू होने जा रहा है। ऐसे में सावन के महीने में शिव की पूजा कैसे करें ताकि शिव कृपा का अधिक से अधिक लाभ मिल सके।
विज्ञापन
विज्ञापन

सावन में भगवान शिव को प्रसन्न करने की पूजा विधि

सावन के महीने में शिव उपासना के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि सावन के महीनों में शिव उपासना से भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं। वैसे भी कहा जाता है कि सभी देवी-देवताओं में भगवान शिव की पूजा करना सबसे आसान होता है। भोले भंडारी को सच्चे मन से चढ़ाया गया, परन्तु एक लोटा जल की काफी होता है। सावन के पवित्र महीनों में महादेव को प्रसन्न करने के लिए तीन प्रकार से व्रत रखे जाते हैं।

सावन सोमवार व्रत
सोमवार का दिन शिव पूजा के लिए विशेष माना जाता है। ऐसे में सावन के पवित्र महीने में आने वाले सोमवार का महत्व बहुत बढ़ जाता है। भगवान शिव की विशेष कृपा पाने के लिए सावन सोमवार व्रत रखा जाता है।
विज्ञापन


- 16 सोमवार व्रत: सावन शिव पूजा के लिए सबसे अच्छा और पवित्र महीना है। ऐसे में जो भक्त सोलह सोमवार का व्रत शुरू करने के लिए अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए व्रत रखना चाहते हैं, उनके लिए यह समय बहुत शुभ है।

- प्रदोष व्रत: सावन के महीने में पड़ने वाले प्रदोष व्रत भगवान शिव और माता पार्वती की कृपा पाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

सावन व्रत और पूजा विधि

- सावन के महीने में सुबह जल्दी उठकर स्नान करें।
- पास के शिव मंदिर में जाकर शिव के दर्शन करें और शिवलिंग पर गंगा जल और दूध से अभिषेक करें।
- भगवान शिव की पूजा में बेलपत्र, धतूरा, गंगा जल और दूध अवश्य शामिल करें।
- सावन के महीने में भगवान शिव का जलाभिषेक करते समय "ॐ नमः शिवाय" मंत्र का जाप करें।
- पूजा के अंत में भगवान शिव से अपनी सभी मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए प्रार्थना करें और उनकी आरती करते हुए शिव चालीसा का पाठ करें।
 
विज्ञापन