विज्ञापन
Home  dharm  vrat  lord shiva mantra chant these mantras according to the zodiac sign on monday

Lord Shiva Mantra: सोमवार पर राशि अनुसार करें इन मंत्रों का जाप, सभी कष्टों से मिलेगी मुक्ति

jeevanjali Published by: निधि Updated Sun, 28 Apr 2024 05:57 PM IST
सार

Lord Shiva Mantra: हिंदू धर्म में, सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित होता है। इस दिन उनकी पूजा करने से विशेष फल प्राप्त होते हैं।

Lord Shiva Mantra
Lord Shiva Mantra- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Lord Shiva Mantra: हिंदू धर्म में, सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित होता है। इस दिन उनकी पूजा करने से विशेष फल प्राप्त होते हैं। सोमवार को शिव पूजा करने से पापों का नाश होता है और मन शुद्ध होता है। साथ ही सोमवार का दिन  चंद्र ग्रह का दिन माना जाता है। चंद्र ग्रह मन का कारक होता है। शिव पूजा से चंद्र ग्रह शांत होता है और मन को शांति मिलती है।सोमवार को शिव पूजा करने से भगवान शिव भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं। सोमवार को शिव पूजा करने से , रोगों का नाश होता है और अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है। कहा जाता है इस दिन शिव जी की पूजा करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।
विज्ञापन
विज्ञापन


सोमवार को शिवजी की इस विधि से करें पूजा:

- पूजा से पहले स्नान कर स्वच्छ वस्त्र पहन लें।
- एक चौकी या आसन पर स्वच्छ कपड़ा बिछाएं। इस पर शिवलिंग स्थापित करें।
- गंगाजल, पंचामृत और शुद्ध जल से शिवलिंग का स्नान करें।
- बेलपत्र को गंगाजल में धोकर, चंदन और कलावा से सजाकर शिवलिंग पर अर्पित करें। प्रत्येक बेलपत्र पर एक धतूरा भी रखें।
- आंकड़े के फूल और शमी के पत्ते भी शिवलिंग पर अर्पित करें।
- शिवलिंग पर चंदन का टीका लगाएं और कलावा बांधें।
- घी या तेल का दीपक जलाकर शिवलिंग के सामने रखें। धूप जलाएं।
- शिवलिंग को नैवेद्य और भोग अर्पित करें।
- "ॐ नमः शिवाय" मंत्र का जाप करें या अपनी श्रद्धा अनुसार कोई शिव स्तोत्र या मंत्र का पाठ करें।
- आरती गाकर भगवान शिव की आरती उतारें।
- अपनी मनोकामना के लिए भगवान शिव से प्रार्थना करें।
- पूजा के अंत में भस्म का प्रसाद ग्रहण करें।

सोमवार के दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए कुछ शक्तिशाली मंत्र बताए गए हैं :

1. ॐ नमः शिवाय: 
यह सबसे सरल और सर्वशक्तिमान मंत्रों में से एक है। इस मंत्र का जाप करने से भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं और मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

2. महामृत्युंजय मंत्र: 
यह मंत्र अकाल मृत्यु से बचाने वाला माना जाता है। सोमवार को इस मंत्र का 108 बार जाप करने से भगवान शिव की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

3. ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् 
  उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्: 

यह भी महामृत्युंजय मंत्र का ही एक रूप है। इस मंत्र का जाप करने से रोगों का नाश होता है और आरोग्य की प्राप्ति होती है।

4. ॐ षट् षट् करि शिवाय नमः: 
यह मंत्र भगवान शिव के छह रूपों - रुद्र, महादेव, शंकर, ईशान, पशुपति और षडानन - की आराधना करता है। इस मंत्र का जाप करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
विज्ञापन


5. ॐ नमः शिवाय गुरुदेवाय नमः: 
यह मंत्र भगवान शिव को गुरु रूप में स्तुति करता है। इस मंत्र का जाप करने से ज्ञान और विद्या की प्राप्ति होती है।

राशि अनुसार सोमवार के दिन आप इन मंत्रों का जाप कर सकते हैं 

मेष राशि: ॐ नमः शिवाय

वृषभ राशि: ॐ नमः शिवाय गुरुदेवाय नमः

मिथुन राशि: ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्

कर्क राशि: ॐ शंकरार्धन नमः

सिंह राशि: ॐ नमः शिवाय

कन्या राशि: ॐ षट् षट् करि शिवाय नमः

तुला राशि: ॐ मृत्युंजय मंत्र

वृश्चिक राशि: ॐ नमः शिवाय

धनु राशि: ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्

मकर राशि: ॐ शंकरार्धन नमः

कुंभ राशि: ॐ नमः शिवाय गुरुदेवाय नमः

मीन राशि: ॐ षट् षट् करि शिवाय नमः

मंत्र जाप करते समय ध्यान रखने योग्य बातें:

- स्नान करके स्वच्छ वस्त्र पहनें।
- शांत और पवित्र स्थान पर बैठें।
- मंत्र का जाप धीमी गति से और स्पष्ट उच्चारण के साथ करें।
- जाप करते समय मन को एकाग्र रखें और भगवान शिव के बारे में सोचें।
- अपनी मनोकामना भगवान शिव के चरणों में अर्पित करें। यह भी ध्यान रखें कि मंत्रों का जाप केवल तभी प्रभावी होता है जब आप पूर्ण श्रद्धा और विश्वास के साथ करते हैं।
विज्ञापन