विज्ञापन
Home  dharm  vrat  gupt navratri 2024 date puja vidhi shubh muhurat worship goddess durga with this method on gupt navratri

Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi: गुप्त नवरात्रि पर इस विधि से करें मां दुर्गा की पूजा, पूरी होंगी सभी मनोकामनाएं

जीवांजलि धर्म डेस्क Published by: निधि Updated Sun, 23 Jun 2024 06:25 PM IST
सार

Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi: इस साल गुप्त नवरात्रि 06 जुलाई से शुरू हो रही है, जो 15 जुलाई को समाप्त होगी। गुप्त नवरात्रि में नौ दिनों तक विधि-विधान से मां दुर्गा की पूजा करने वाले भक्तों को नवग्रहों से शांति मिलती है।

Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi:
Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi:- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi: हिंदू धर्म शास्त्रों में कुल चार नवरात्रि का वर्णन किया गया है। चैत्र और शारदीय नवरात्रि के अलावा दो गुप्त नवरात्रि भी होती हैं। एक गुप्त नवरात्रि माघ महीने में और दूसरी आषाढ़ महीने में आती है। इस समय आषाढ़ महीना चल रहा है और साल की पहली गुप्त नवरात्रि इसी महीने में होगी। गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा के उपासक गुप्त तरीके से पूजा-अर्चना करते हैं। आषाढ़ महीने में पड़ने वाली गुप्त नवरात्रि शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से शुरू होती है। इस साल गुप्त नवरात्रि 06 जुलाई से शुरू हो रही है, जो 15 जुलाई को समाप्त होगी। गुप्त नवरात्रि में नौ दिनों तक विधि-विधान से मां दुर्गा की पूजा करने वाले भक्तों को नवग्रहों से शांति मिलती है। आइए जानते हैं गुप्त नवरात्रि में कैसे करें मां दुर्गा की पूजा और किन चीजों का करें भोग...
विज्ञापन
विज्ञापन

गुप्त नवरात्रि 2024 शुभ मुहूर्त - Gupt Navratri 2024 Shubh Muhurat

आषाढ़ माह में गुप्त नवरात्रि की शुरुआत 06 जुलाई को हो रही है। इस दिन कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त प्रातः काल 05 बजकर 26 मिनट से लेकर 06 बजकर 43 मिनट तक रहेगा। पंचांग के अनुसार आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 06 जुलाई को प्रातः 04:26 बजे प्रारंभ होगी। वहीं, इसका समापन 07 जुलाई को प्रातः 04:26 बजे होगा। ऐसे में इस वर्ष आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 6 जुलाई से 15 जुलाई तक है।

गुप्त नवरात्रि में ऐसे करें पूजा - Gupt Navratri 2024 Puja Vidhi

आषाढ़ माह में पड़ने वाली गुप्त नवरात्रि के नौ दिनों का खास महत्व होता है। इस दौरान आपको प्रातः काल स्नान करने के बाद मां दुर्गा की विधि विधान से पूजा करना चाहिए। ज्योतिष के अनुसार, गुप्त नवरात्रि के दौरान धन-दौलत में वृद्धि के लिए मां लक्ष्मी के प्रतिमा पर कमल का फूल अर्पित करें। साथ ही रोज पूजा के दौरान मां दुर्गा को श्रृंगार सामग्री अर्पित करें। ऐसा करने से अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है और जीवन में कभी किसी चीज की कमी नहीं होती है। 
विज्ञापन

गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा को इन चीजों का लगाएं भोग

प्रतिपदा- रोगमुक्त रहने के लिए प्रतिपदा तिथि के दिन मां शैलपुत्री को गाय के घी से बनी सफेद चीजों का भोग लगाएं। 
द्वितीया- लंबी उम्र के लिए द्वितीया तिथि को मां ब्रह्मचारिणी को मिश्री, चीनी और पंचामृत का भोग लगाएं। 
तृतीया- दुख से मुक्ति के लिए तृतीया तिथि पर मां चंद्रघंटा को दूध और उससे बनी चीजों का भोग लगाएं। 
चतुर्थी- तेज बुद्धि और निर्णय लेने की क्षमता बढ़ाने के लिए चतुर्थी तिथि पर मां कुष्मांडा को मालपुए का भोग लगाएं। 
पंचमी- स्वस्थ शरीर के लिए मां स्कंदमाता को केले का भोग लगाएं। 
षष्ठी- आकर्षक व्यक्तित्व और सुंदरता पाने के लिए षष्ठी तिथि के दिन मां कात्यायनी को शहद का भोग लगाएं। 
सप्तमी- संकटों से बचने के लिए सप्तमी के दिन मां कालरात्रि की पूजा में गुड़ का नैवेद्य अर्पित करें। 
अष्टमी- संतान संबंधी समस्या से छुटकारा पाने के लिए अष्टमी तिथि पर मां महागौरी को नारियल का भोग लगाएं। 
नवमी- सुख-समृद्धि के लिए नवमी पर मां सिद्धिदात्री को हलवा, चना-पूरी, खीर आदि का भोग लगाएं। 
 
विज्ञापन