विज्ञापन
Home  dharm  travel tips for jagannath rath yatra 2024 how many days should you plan your trip to see jagannath rath yatra

How to Reach Jagannath Temple: कैसे पहुंचे जगन्नाथ पुरी, जगन्नाथ धाम की पूरी जानकारी

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Fri, 28 Jun 2024 06:07 AM IST
सार

How to Reach Jagannath Temple:   जगन्नाथ मंदिर विश्वप्रसिद्ध है ये मंदिर चार धामों में से एक माना जाता है आपको बता दें कि इस मंदिर की बहुत विशेषताएं हैं जो इसे दूसरे मंदिरों से अलग बनाती है।

जगन्नाथ रथ यात्रा 2024 के लिए यात्रा सुझाव
जगन्नाथ रथ यात्रा 2024 के लिए यात्रा सुझाव- फोटो : jeevanjali

विस्तार

How to Reach Jagannath Temple:   जगन्नाथ मंदिर विश्वप्रसिद्ध है ये मंदिर चार धामों में से एक माना जाता है आपको बता दें कि इस मंदिर की बहुत विशेषताएं हैं जो इसे दूसरे मंदिरों से अलग बनाती है। इस मंदिर में भगवान जगन्नाथ अपने बड़े भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ विराजते हैं। यहां हर साल  आषाढ़ के महीने में भव्य रथ यात्रा का आयोजन किया जाता है। जिसमें शामिल होने के लिए देश-विदेश से लोग आते हैं। ये मंदिर एक समुंदर के किनारे बसा है लेकिन लोगों का ऐसा कहना है कि मंदिर के अंदर प्रवेश करते ही समुंदर की लहरे सुनाई नहीं देती। बता दें कि इस मंदिर की सबसे खास विशेषता हैं यहां की रथ यात्रा। जिसका आयोजन हर साल किया जाता है । अगर आप भी इस यात्रा में शामिल होना चाहते हैं और सोच रहे हैं कि जगन्नाथ मंदिर कैसे पहुंचें तो इस लेख को जरूर पढ़ें। चलिए आपको पहले इस यात्रा में शामिल होने के महत्व के बारे में बताते हैं 
विज्ञापन
विज्ञापन

क्या है जगन्नाथ यात्रा का महत्व Jagannaath Yatra Ka Kya Hai Mahatv

जगन्नाथ यात्रा को लेकर स्कंद पुराण में ऐसा कहा गया है कि जो भी व्यक्ति रथ यात्रा में भगवान जगन्नाथ जी के नाम का कीर्तन करता हुआ गुंडीचा नगर जाता है वो जन्म और मृत्यु के चक्र से मुक्त हो जाता है। इसके साथ ही  जो भी व्यक्ति भगवान के नाम का जाप करता हुआ रथयात्रा में शामिल होता है उसकी सारी मनोकामनाएं भगवान जगन्नाथ पूरी करते हैं । इसके साथ  रथ यात्रा में शामिल होने निसंतान लोगों को संतान की प्राप्ति होती है। 

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान कृष्ण पुरी में भगवान जगन्नाथ के रूप में धरती पर निवास करते हैं। साल  में एक बार उनकी रथ यात्रा निकालने का विधान है, जिसमें भाग लेने वाले भाग्यशाली लोगों को 100 यज्ञों के बराबर पुण्य मिलता है। भगवान जगन्नाथ की कृपा से लोगों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। मान्यता है कि आषाढ़ माह में पुरी में स्नान करने से सभी तीर्थों के दर्शन के बराबर पुण्य मिलता है।  इस पर्व की कृपा से मानव जीवन की सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं। आपको बता दें कि भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा का हिंदुओं के लिए विशेष धार्मिक महत्व है। इस दिन भक्त रथ यात्रा के दौरान जुलूस में रथ को खींचने को पवित्र मानते हैं। ऐसा कहा जाता है कि रथ को छूने और खींचने से व्यक्ति के सभी पाप नष्ट हो जाते हैं और उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है।
विज्ञापन

कब से शुरु होगी जगन्नाथ यात्रा  Kab Se Shuru Hogee Jagannaath Yatra

इस साल जगन्नाथ रथ यात्रा 7 जुलाई 2024 से शुरु होगी और 16 जुलाई  2024  को रथ यात्रा का समापन होगा 

कितने दिनों का करें जगन्नाथ पुरी ट्रिप का प्लान Kitane Dinon Ka Karen Jagannaath Puri Trip Ka Plan

अगर आप भी जगन्नाथ यात्रा में शामिल होना चाहते है तो आप 7 दिन का ट्रिप प्लान कर सकते हैं । 

जगन्नाथ पुरी में कहां रुके  Jagannaath Puri Mein Kahaan Ruke

जगन्नाथ पुरी एक टूरिस्ट स्पाॉट है यहां कई  होटल और धर्मशाला मिल जाएंगे यहां आपको ठहरने के लिए 500 से 2000 रुपये तक में कमरे मिल जाएंगे 



कैसे जाएं  जगन्नाथ पुरी  Kaise Jaen Jagannaath PurI

हवाई मार्ग से
भुवनेश्वर में बीजू पटनायक हवाई अड्डा निकटतम हवाई अड्डा है, जो पुरी शहर के केंद्र से लगभग 56 किमी दूर है। यह हवाई अड्डा दिल्ली और मुंबई से जुड़ा हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को दिल्ली या कोलकाता से कनेक्शन लेना पड़ता है।

ट्रेन से
पुरी एक प्रमुख रेलवे जंक्शन है। भुवनेश्वर, नई दिल्ली, चेन्नई और कोलकाता सहित भारत के कई शहरों से नियमित सीधी रेल सेवाएँ उपलब्ध हैं।

सड़क मार्ग से
पुरी अच्छी तरह से निर्मित सड़कों के माध्यम से पड़ोसी शहरों से जुड़ा हुआ है। पुरी की यात्रा के लिए बसों को मुख्य विकल्प माना जाता है क्योंकि बस स्टैंड गुंडिचा मंदिर के पास है। भुवनेश्वर और कटक बस द्वारा 15 मिनट में पहुँचा जा सकता है।

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय


 
विज्ञापन