विज्ञापन
Home  dharm  sunset vastu tips what things should not be donated after sunset know here

Sunset Vastu Tips: सूर्यास्त के बाद किन चीजों को नहीं करना चाहिए दान? जानिए

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Fri, 05 Jul 2024 05:00 AM IST
सार

Sunset Vastu Tips:  हिन्दु धर्म में दान का विशेष महत्व है आपको बता दें कि दान करने से पुण्य मिलता है। लेकिन दान देना का तरीका और समय उतना ही महत्व पूर्ण माना जाता है। बता दें कि गलत समय पर दिया गया दान शुभ की जगह अशुभ परिणाम देता है।

सूर्यास्त के बाद किन चीजों को नहीं करना चाहिए दान
सूर्यास्त के बाद किन चीजों को नहीं करना चाहिए दान- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Sunset Vastu Tips:  हिन्दु धर्म में दान का विशेष महत्व है आपको बता दें कि दान करने से पुण्य मिलता है। लेकिन दान देना का तरीका और समय उतना ही महत्व पूर्ण माना जाता है। बता दें कि गलत समय पर दिया गया दान शुभ की जगह अशुभ परिणाम देता है। जिसके चलते हमें कंगाल  होना पड़ता है और हमारा धन फिजूल में खर्च होता है। चलिए आपको बताते हैं कि दान किस समय नहीं करना चाहिए।
विज्ञापन
विज्ञापन

सूर्यास्त के बाद किन चीजों का दान करने की है मनाही 


हल्दी
गुरु का कारक हल्दी को माना जाता है। आपको बता दें कि शाम के दान देने से कुंडली में  गुरु ग्रह कमजोर होता है । इसलिए भूलकर भी सूर्यास्त के बाद हल्दी का दान नहीं करना चाहिए 

दूध
सूर्यास्त के समय दूध का दान करना भी शुभ नहीं माना जाता है। क्योंकि इसका संबंध चंद्रमा के साथ-साथ सूर्य ग्रह से भी है। ऐसे में इसका कमजोर होना व्यक्ति के जीवन में दुखों का पहाड़  आ सकता है। इसके साथ ही दूध का संबंध भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी का संबंध माना जाता है। आपको बता दें की दूध का दान करने से घर की बरकत चली जाती है 
विज्ञापन


दही
दही नहीं खानी चाहिए सूर्यास्त के समय और उसके बाद दही का दान करना चाहिए। क्योंकि दही शुक्र का प्रतीक माना जाता है जो सुख और समृद्धि देता है। इसलिए सूर्यास्त से पहले दही का दान करना चाहिए।

पैसे का लेन-देन
वास्तु के अनुसार शाम के समय पैसों का लेन-देन करने से बचना चाहिए। इससे धन की हानि होती है। देवी लक्ष्मी चली जाती हैं। क्योंकि सूर्यास्त के समय देवी लक्ष्मी घर आती हैं। ऐसे में अगर आप दूसरों को पैसे देते हैं तो देवी लक्ष्मी उनके घर चली जाती हैं।



प्याज-लहसुन देना
वास्तु के अनुसार लहसुन-प्याज तामसिक होता है भोजन में प्याज और लहसुन का संबंध केतु से है। ऐसे में शाम के समय प्याज और लहसुन का दान करने से व्यक्ति के जीवन में केतु के बुरे प्रभाव पड़ने लगते हैं, जिससे व्यक्ति के बनते काम बिगड़ने लगते हैं। 

नमक
वास्तु शास्त्र के अनुसार शाम के समय नमक का दान नहीं करना चाहिए। इससे नकारात्मक ऊर्जा प्रबल होती है, जो प्रगति और समृद्धि में बाधा उत्पन्न करती है।

भोजन कराना

भूखे व्यक्ति को भोजन कराना सबसे पुण्य का कार्य है। लेकिन वास्तु के अनुसार शाम के समय भोजन नहीं कराना चाहिए। सूर्यास्त के समय भोजन नहीं करना चाहिए और न ही स्वयं भोजन करना चाहिए। इसलिए सूर्यास्त के बाद भोजन करा सकते हैं।
 

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय

विज्ञापन