विज्ञापन
Home  dharm  sawan somwar vrat 2024 what are the rules of sawan monday fast know

Sawan Somwar Vrat 2024: क्या है सावन सोमवार व्रत के नियम, जानिए

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Sat, 06 Jul 2024 06:00 AM IST
सार

Sawan Somwar Vrat 2024: सनातन परंपरा में हर दिन किसी न किसी देवी या देवता की पूजा, व्रत, जप आदि को समर्पित होता है। हिंदू मान्यता के अनुसार सोमवार का दिन भगवान शिव और उनके माथे पर सुशोभित चंद्रदेव की पूजा के लिए बहुत शुभ माना जाता है।

सावन सोमवार
सावन सोमवार- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Sawan Somwar Vrat 2024: सनातन परंपरा में हर दिन किसी न किसी देवी या देवता की पूजा, व्रत, जप आदि को समर्पित होता है। हिंदू मान्यता के अनुसार सोमवार का दिन भगवान शिव और उनके माथे पर सुशोभित चंद्रदेव की पूजा के लिए बहुत शुभ माना जाता है। मान्यता है कि सोमवार का व्रत रखने वाले शिव साधक के जीवन से जुड़े सभी कष्ट पलक झपकते ही दूर हो जाते हैं और मनोकामनाएं शीघ्र पूरी होती हैं, लेकिन इस व्रत को आरंभ करने और पूजा करने के कुछ नियम बताए गए हैं,

विज्ञापन
विज्ञापन

क्या है  सोमवार व्रत के नियम

अगर आप सोमवार का व्रत रखना चाहते हैं तो इसे 16 सोमवार तक रखने के बाद विधि-विधान से इसका उद्यापन करना चाहिए। हालांकि आप चाहें तो अपनी इच्छा, संकल्प और शारीरिक क्षमता के अनुसार इसे आगे भी जारी रख सकते हैं। भगवान शिव का सोमवार व्रत पांच साल तक रखने का भी नियम है। अगर आप सावन में सोमवार का व्रत रखते हैं तो इस महीने में पड़ने वाले व्रतों की संख्या का संकल्प लेकर भगवान शिव की पूजा का शुभ फल प्राप्त कर सकते हैं।

विज्ञापन

सोमवार व्रत करते समय इन बातों का रखें ध्यान

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन के महीने में व्रत रखने वालों को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर पानी में काले तिल डालकर स्नान करना चाहिए।

सावन के सोमवार को भगवान शिव का जल या गंगाजल से अभिषेक किया जाता है। लेकिन विशेष मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए भगवान शिव का दूध, दही, घी, शहद, सरसों का तेल, काले तिल आदि से भी अभिषेक किया जाता है। मान्यता है कि अभिषेक के दौरान मंत्रों का जाप करना बहुत जरूरी होता है।

सावन सोमवार को व्रत रखने वाले व्यक्ति के लिए यह बहुत जरूरी है कि वह व्रत के दौरान जितना हो सके उतना तरल पदार्थ का सेवन करें, जैसे छाछ, नारियल पानी, नींबू पानी आदि। इससे आप पूरे दिन फिट और स्वस्थ रहेंगे।

वहीं सावन में व्रत रखने वालों को कोशिश करनी चाहिए कि व्रत के दौरान केवल फलों का ही सेवन करें। इससे न केवल शरीर को लाभ मिलेगा बल्कि सेहत भी अच्छी रहेगी।

सावन का व्रत कभी भी बिना पानी के न रखें। दरअसल, पानी न पीने से शरीर के अंदर मौजूद हानिकारक तत्व शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं। इससे शरीर में कई तरह की बीमारियां हो जाती हैं। इसलिए पानी पीते रहना चाहिए।

सावन का व्रत रखने वालों को मसालेदार खाना खाने से दूर रहना चाहिए। इस दौरान जितना हो सके कम मसालों के साथ खाना बनाना चाहिए।

सावन का व्रत खोलते समय कभी भी भारी खाना नहीं खाना चाहिए। इससे पेट से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं। कोशिश करें कि इस समय बिना मिर्च-मसाले वाला सादा खाना खाएं।

Gayatri Mantra Benefits: जानिए गायत्री महामंत्र जाप करने की क्या है सही विधि

Ganga Dussehra 2024: क्यों मनाया जाता है गंगा दशहरा, जानिए इसका पौराणिक महत्व

Raksha Sutra: कितनी बार हांथ पर लपेटना चाहिए कलावा, जानिए

विज्ञापन