विज्ञापन
Home  dharm  sawan 2024 sawan me kyu nahi khani chahiye kadhi why should we not eat kadhi in the month of sawan

Sawan Me Kyu Nahi khani Chahiye Kadhi: सावन के महीने में क्यों नहीं खानी चाहिए कढ़ी, जानिए वजह

जीवांजलि धर्म डेस्क Published by: निधि Updated Tue, 09 Jul 2024 06:32 PM IST
सार

Sawan Me Kyo Nhi Khana Chahiye Kadhi: हिंदू धर्म का पवित्र महीना सावन (Sawan 2024) 22 जुलाई 2024 से शुरू हो चुका है. यह 19 अगस्त तक चलेगा. इस महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है

Sawan me kyu nahi khani Chahiye Kadhi:
Sawan me kyu nahi khani Chahiye Kadhi:- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Sawan Me Kyo Nhi Khana Chahiye Kadhi: हिंदू धर्म का पवित्र महीना सावन (Sawan 2024) 22 जुलाई 2024 से शुरू हो चुका है. यह 19 अगस्त तक चलेगा. इस महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है। हिंदू धर्म में सावन का महीना बहुत पवित्र माना जाता है। भगवान शिव को समर्पित इस पूरे महीने में पूजा-पाठ और व्रत के अलावा कई अन्य नियमों का पालन करना होता है। खासकर सावन में खान-पान को लेकर खास नियम बताए गए हैं, जिनमें से एक के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। दरअसल, इन नियमों (Sawan ke niyam) के अनुसार सावन में कढ़ी खाना भी वर्जित है, लेकिन ऐसा क्यों है, आइए जानते हैं इसके बारे में।
विज्ञापन
विज्ञापन

सावन में क्यों नहीं खानी चाहिए कढ़ी? 

(Why Should We Not Eat Kadhi In The Month Of Shravan?)

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सावन में भगवान शिव को कच्चा दूध और दही चढ़ाया जाता है, इसलिए इस महीने में कच्चे दूध और उससे बनी चीजों का सेवन वर्जित माना जाता है। दही का इस्तेमाल कढ़ी बनाने में किया जाता है, इसलिए सावन के महीने में कढ़ी या दूध और दही से बनी चीजों का सेवन वर्जित माना जाता है। 

इसके अलावा इसका वैज्ञानिक पहलू यह है कि सावन के महीने में घास में कई कीड़े लग जाते हैं। ऐसे में गाय-भैंस घास के साथ-साथ इन कीड़ों को भी चर लेती हैं। ऐसे में इसका असर दूध पर पड़ता है। ऐसे में कच्चे दूध का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। साथ ही इसी दूध से दही भी बनता है। ऐसे में इस मौसम में दही का सेवन भी वर्जित है।
विज्ञापन

सावन के महीने में क्यों नहीं खाना चाहिए साग

(Why should We Not Eat Saag In The Month of Savan)

सावन के महीने में सब्जियां नहीं खानी चाहिए क्योंकि भगवान शिव को प्रकृति बहुत प्रिय है इसलिए सब्जियां तोड़कर खाना शुभ नहीं माना जाता है। साग न खाने का कारण यह है कि सावन के महीने में हरी पत्तेदार सब्जियों में कीड़े लगने का खतरा अधिक होता है। साथ ही सावन के महीने में साग में पित्त बढ़ाने वाले तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है, जिससे पाचन में समस्या होती है। इससे स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।

यह भी पढ़ें:-
Unluck Plants for Home: शुभ नहीं, बल्कि अशुभ माने जाते हैं ये पौधे ! घर में लगाने से आती है दरिद्रता
What is Karma Akarama Vikarma : कर्म अकर्म और विकर्म क्या है? जानिए
Panchmukhi Shiv: भगवान शिव के क्यों है पांच मुख? जानिए इन 5 मुख का रहस्य
विज्ञापन