विज्ञापन
Home  dharm  sawan 2024 sawan maheene me shivling par kaun si cheeje nahi chadhani chahiye

Sawan 2024: सावन माह में भूल के भी शिवलिंग पर न चढ़ाएं ये चीजें, जानिए कौन सी हैं वो चीजें ?

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Tue, 09 Jul 2024 07:01 AM IST
सार

Sawan 2024: सावन में विधि-विधान से भोलेनाथ की पूजा होती है। भगवान शिव को सावन का महीना बहुत प्रिय है। इस महीने में कांवड़ यात्रा भी निकाली जाती है। सावन के महीने में सभी शिव भक्त महादेव को प्रसन्न करने के लिए तरह-तरह के उपाय करते हैं

सावन 2024:
सावन 2024:- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Sawan 2024: सावन में विधि-विधान से भोलेनाथ की पूजा होती है। भगवान शिव को सावन का महीना बहुत प्रिय है। इस महीने में कांवड़ यात्रा भी निकाली जाती है। सावन के महीने में सभी शिव भक्त महादेव को प्रसन्न करने के लिए तरह-तरह के उपाय करते हैं और उनका ध्यान करते हैं। और विशेष रूप से शिवलिंग की पूजा करते हैं आपको बता दे कि शिवलिंग की पूजा करते समय कुछ चीजें हैं जिनका विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए। आपको बता दें कि कुछ चीजें हैं जिन्हें भूल से भी शिवलिंग पर नहीं चढ़ाना चाहिए। चलिए आपको उन चीजों के बारे में बताते हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

शिवलिंग पर किन चीजों को चढ़ाने की है मनाही  Shivaling Par Kin Cheejon Ko Chadhaane Kee Hai Manaahee


शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ानी चाहिए तुलसी Shivaling Par Kyon Nahi Chadhani Chahiye Tulsi

आपको बता दें कि  तुलसी के बिना भगवान विष्णु की पूजा अधूरी मानी जाती है लेकिन भूलकर भी शिवलिंग पर तुलसी नहीं चढ़ाना चाहिए क्योंकि ऐसी मान्यता है कि जालंधर राक्षस का वध भगवान शिव ने किया था जो वृन्दा का पति था । आपको बता दें की विष्णु जी के श्राप के कारण वृंदा कालांतर में तुलसी बनी इसके साथ ही तुलसी लक्ष्मी स्वरुपा भी हैं. इसलिए तुलसी का उपयोग भगवान शिव की पूजा में नहीं किया जाता है 

शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ाना चाहिए केतकी का फूल Shivaling Par Kyon Nahi Chadhana Chahiye Ketki Ka Fool

शिवलिंग पर केतकी के फूल चढ़ाने की भी मनाही है। क्योंकि केतकी के फूल ने ब्रम्हदेव के कहने पर भगवान शिव से झूठ बोला था। जिससे भगवान शिव को बहुत गुस्सा आया था।  जिसके बाद भगवान शिव ने केतकी  के फूल को यह श्राप दिया कि उनकी पूजा में कभी भी केतकी के फूलों का उपयोग नहीं किया जाएगा 
विज्ञापन

शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ाना चाहिए  नारियल का पानी Shivaling Par Kyon Nahi Chadhana Chahiye Nariyal Pani

भगवान शिव को नारियल चढ़ाया तो जाता है  लेकिन कभी भी नारियल के पानी से बगवान शिव का अभिषेक नहीं किया जाता है कहा जाता है कि ऐसा करने से भगवान शिव नाराज होते हैं और इसके साथ ही धन की हानि भी होती है 

शिवलिंग पर क्यों नहीं  करते शंख से अभिषेक Shivaling Par Kyon Nahi Karte Sankh Se Abhishek 

आपको बता दें कि कभी भी शंख से  भगवान शिव का अभिषेक नहीं किया जाता क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि पूर्व काल में भगवान शिव ने शंखचूड़ नामक राक्षस का वध किया था और उसी राक्षस से शंख की उत्पत्ति हुई थी 

शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ाना चाहिए टूटे हुए चावल Shivaling Par Kyon Nahi Chadhana Chahiye Toote Chaval

भगवान शिव को अक्षत यानि चावल बहुत प्रिय हैं लेकिन कभी भी शिवलिंग पर टूटे हुए चावल नहीं चढ़ाने चाहिए ऐसा करने से भगवान बहुत क्रोधित होते हैं । भगवान शिव पर हमेशा साबूत चावल चढ़ाना चाहिए 

शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ाना चाहिए काला तिल Shivaling Par Kyon Nahi Chadhana Chahiye Kala Til

आपको बतादें कि शिवलिंग पर अभिषेक करते समय भूल से भी  तिल का उपयोग नहीं करना चाहिए  ऐसा मान्यता है कि काला तिल भगवान  विष्णु के मैल से उत्पन्न हुआ था इसलिए भूल से भी शिवलिंग पर इसे नहीं अर्पित करना चाहिए 

शिवलिंग पर क्यों नहीं चढ़ाना चाहिए सिंदूर और हल्दी Shivaling Par Kyon Nahi Chadhana Chahiye Sindoor Aur Haldi

शिवलिंग पर हल्दी और सिंदूर का प्रयोग करना वर्जित है क्योंकि ये दोनों ही सुंदरता को प्रकट करते हैं और भगवान शंकर हमेशा अपने शरीर पर भस्म लगाए रहते हैं और उन्हें सुंदरता बिल्कुल पसंद नहीं है। भगवान शंकर सौंदर्य प्रसाधनों को स्वीकार नहीं करते हैं, इसलिए शिवलिंग पर सिंदूर और हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए। श्रृंगार की वस्तुओं में भगवान शंकर पर केवल इत्र ही चढ़ाया जा सकता है। माता पार्वती की पूजा में हल्दी का प्रयोग किया जा सकता है।


यह भी पढ़ें:-
Unluck Plants for Home: शुभ नहीं, बल्कि अशुभ माने जाते हैं ये पौधे ! घर में लगाने से आती है दरिद्रता
Garuda Purana : गरुण पुराण क्या है, क्यों किया जाता है इसका पाठ? जानिए
Panchmukhi Shiv: भगवान शिव के क्यों है पांच मुख? जानिए इन 5 मुख का रहस्य
विज्ञापन