विज्ञापन
Home  dharm  sandalwood garland benefits chandan mala keep these things in mind while wearing a sandalwood garland

Sandalwood Garland Benefits: क्यों पहनी जाती है चंदन की माला? जानिए इसके लाभ और नियम

जीवांजलि धर्म डेस्क Published by: निधि Updated Thu, 13 Jun 2024 03:06 PM IST
सार

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ में कई तरह की चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, उसी तरह चंदन का इस्तेमाल भी पूजा-पाठ में मुख्य रूप से किया जाता है।

Sandalwood Garland Benefits
Sandalwood Garland Benefits- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Chandan ki Mala: हिंदू धर्म में पूजा-पाठ में कई तरह की चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, उसी तरह चंदन का इस्तेमाल भी पूजा-पाठ में मुख्य रूप से किया जाता है। चंदन का इस्तेमाल कई तरह से किया जाता है जैसे माला, गंध और तिलक। हिंदू धर्म में पूजा-पाठ के साथ-साथ मंत्रों के जाप का भी विशेष महत्व माना जाता है। अलग-अलग देवी-देवताओं के मंत्रों का जाप करते समय अलग-अलग तरह की मालाओं का इस्तेमाल किया जाता है। जाप में चंदन की माला का भी इस्तेमाल किया जाता है। शास्त्रों के अनुसार चंदन की माला से किया गया जाप बहुत फलदायी होता है। तो आइए जानते हैं चंदन की माला के इस्तेमाल और फायदे।
विज्ञापन
विज्ञापन


सफेद चंदन और लाल चंदन दो तरह की चंदन की माला होती है। इसे सफेद चंदन और लाल चंदन के नाम से भी जाना जाता है। इन दोनों तरह की चंदन की मालाओं का अपना-अपना महत्व माना जाता है। जहां सफेद चंदन की माला से भगवान श्रीराम, विष्णु, कृष्ण, भगवान दत्तात्रेय के मंत्रों का जाप किया जाता है, वहीं लाल चंदन की माला से श्री गणेश, दुर्गा, लक्ष्मी, त्रिपुर सुंदरी माता के मंत्रों का जाप किया जाता है। शास्त्रों में चंदन की माला को सुख, शांति और समृद्धि प्रदान करने वाली माना गया है। ऐसा माना जाता है कि इस माला से किया गया जप बहुत जल्दी फल देता है।
विज्ञापन

चंदन की माला धारण करने के क्या है लाभ?

चंदन की माला का इस्तेमाल सिर्फ मंत्र जाप के लिए ही नहीं किया जाता बल्कि इसे धारण करना भी बहुत फायदेमंद होता है। सफेद चंदन की माला पहनने से व्यक्ति के मन में सकारात्मकता आती है, जिससे मानसिक शांति मिलती है। जो लोग मानसिक तनाव का सामना कर रहे हैं या जिनका मन समस्याओं के कारण स्थिर नहीं है, उन्हें सफेद चंदन की माला पहननी चाहिए, इससे काम पर ठीक से ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलती है। छात्रों के लिए भी सफेद चंदन की माला पहनना फायदेमंद होता है। वे अपनी पढ़ाई पर अच्छे से ध्यान केंद्रित कर पाते हैं।

 चंदन की माला से धन से जुड़ी समस्याएं होती है दूर?

लाल चंदन की माला से मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करने से शीघ्र फल मिलता है। इससे आपकी धन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं और आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। ऐसा माना जाता है कि अगर चंदन की माला से हर रोज नियमित रूप से मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप किया जाए तो घर धन-धान्य से भर जाता है।

इस दिन इस विधि से धारण करें चंदन की माला?

गुरुवार का दिन चंदन की माला धारण करने के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है। सबसे पहले स्नान करके साफ कपड़े पहनें और फिर पूजा स्थल पर भगवान विष्णु के सामने एक साफ पीला कपड़ा बिछाएं। अब चंदन की माला को गंगाजल से धोकर कपड़े पर रखें। इसके बाद भगवान विष्णु की हल्दी, फूल आदि से पूजा करें और बाद में चंदन की माला धारण करें।

चंदन की माला पहनते समय इन बातों का रखें ध्यान?

- जो लोग शादीशुदा जीवन जी रहे हैं उन्हें चंदन की माला पहनते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

- प्रेम संबंध बनाने से पहले माला को उतारकर सही जगह पर रख दें, फिर स्नान करने के बाद ही पहनें।

- अगर आपको किसी के अंतिम संस्कार में जाना है तो भी पहले माला उतारकर अलग रख दें, फिर स्नान करने के बाद फिर से पहनें।

- रात को सोते समय माला उतार दें और सुबह शुद्धि के बाद इसे पहन लें। इसके साथ ही हर पूर्णिमा के दिन माला को शुद्ध करें और फिर से पहनें।

यह भी पढ़ें:-
Palmistry: हस्तरेखा में इन रेखाओं को माना जाता है बेहद अशुभ, व्यक्ति के जीवन में लाती हैं दुर्भाग्य
Upnayan Sanskar: क्या होता है उपनयन संस्कार जानिए महत्व और संस्कार विधि
Worshipping Trees: हिंदू धर्म में पेड़ों की पूजा का क्या है महत्व जानिए
विज्ञापन