विज्ञापन
Home  dharm  religious places  new year 2024 visit these temples on the first day of the new year life will be happy 2023 12 10

New Year 2024: नए साल के पहले दिन करें इन मंदिरों के दर्शन,जीवन रहेगा खुशहाल

jeevanjali Published by: निधि Updated Sun, 10 Dec 2023 06:39 PM IST
सार

New Year 2024: साल 2024 आने में कुछ ही दिन बाकी है। नए साल से लोगों की कई उम्मीदें जुड़ी होती हैं.। बहुत सारे लक्ष्य और सपने लोगों ने नए साल के लिए देख रखें हैं। लोग चाहते हैं कि आने वाला साल अपने साथ खुशियां लेकर आए।

नए साल
नए साल- फोटो : jeevanjali

विस्तार

New Year 2024: साल 2024 आने में कुछ ही दिन बाकी है। नए साल से लोगों की कई उम्मीदें जुड़ी होती हैं.। बहुत सारे लक्ष्य और सपने लोगों ने नए साल के लिए देख रखें हैं। लोग चाहते हैं कि आने वाला साल अपने साथ खुशियां लेकर आए। इसी इच्छा को पूरा करने के लिए कई लोग साल के पहले दिन मंदिर जाते हैं। यहां लोग भगवान का आशीर्वाद लेते हैं और नए साल में प्रगति और समृद्धि के लिए प्रार्थना करते हैं।  ऐसे में साल की शुरुआत भी भगवान के आशीर्वाद से करना अच्छा रहेगा। लोग इसे अपनी किस्मत से जोड़ते हैं कि साल बदलने के साथ ही उनकी किस्मत भी बदल सकती है। नया साल नई खुशहाली लेकर आए। ऐसे में अगर आप भी नए साल में मंदिर जाना चाहते हैं और दिल्ली के रहने वाले हैं तो साल के पहले दिन दिल्ली के प्रसिद्ध मंदिरों के दर्शन कर सकते हैं। चलिए जानते हैं दिल्ली के बड़े और प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में।

विज्ञापन
विज्ञापन
दिल्ली का अक्षरधाम

दिल्ली-नोएडा में रहने वाले लोग साल की शुरुआत राजधानी के प्रसिद्ध अक्षरधाम मंदिर से कर सकते हैं। अक्षरधाम मंदिर में नीलकंठ नाम का एक थिएटर भी है, जो स्वामी नारायण के जीवन की घटनाओं को दर्शाता है। यहां हर शाम म्यूजिक फाउंटेन का भी आयोजन किया जाता है। इसे दुनिया के सबसे बड़े मंदिर के तौर पर गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है।


दिल्ली का हनुमान मंदिर

दिल्ली में ही करोल बाग और झंडेवालान मेट्रो स्टेशन के पास दिल्ली का हनुमान मंदिर है। मंदिर का प्रवेश द्वार भी काफी अनोखा है। इसे देवता के चेहरे के रूप में डिजाइन किया गया है। अंदर जाने के बाद आप मंदिर के गर्भगृह तक पहुंच सकते हैं। यहां की शाम की आरती आपको आनंदित कर देगी।
विज्ञापन

श्री किलकारी भैरव मंदिर

दिल्ली में भैरव जी का मंदिर भी है। प्रगति मैदान में स्थित पुराने किले के पीछे भैरों मंदिर है। इस मंदिर का निर्माण पांडवो ने कराया था। यहां भक्त भैरव बाबा को शराब चढ़ाते हैं। मंदिर के एक खंड में किलकारी भैरव हैं, जिन्हें शराब चढ़ाई जाती है, जबकि दूसरे खंड में दूधिया भैरव हैं, जिन्हें दूध चढ़ाया जाता है।

कालका जी मंदिर

कालका जी मंदिर दिल्ली के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है। माता काली या आदिशक्ति का यह मंदिर भक्तों के बीच बहुत प्रसिद्ध है। यहां लोग अपनी मनोकामना पूरी होने पर आते हैं। नए साल के मौके पर आप देवी मां का आशीर्वाद लेने के लिए कालका मंदिर आ सकते हैं।
 
विज्ञापन