विज्ञापन
Home  dharm  puja during periods why puja is not done during menstruation know the reason

Puja During Periods: मासिक धर्म के दौरान क्यों नहीं की जाती पूजा, जानिए वजह

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Fri, 14 Jun 2024 07:08 AM IST
सार

Puja During Periods: हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व होता है। ऐसे में पूजा के दौरान कई नियमों का पालन किया जाता है। पूजा के दौरान साफ-सुथरे कपड़े पहनने से लेकर पवित्रता तक का काफी ध्यान दिया जाता है

मासिक धर्म
मासिक धर्म- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Puja During Periods: हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व होता है। ऐसे में पूजा के दौरान कई नियमों का पालन किया जाता है। पूजा के दौरान साफ-सुथरे कपड़े पहनने से लेकर पवित्रता तक का काफी ध्यान दिया जाता है। वहीं, महिलाओं के लिए भी पूजा के दौरान कई नियम होते हैं। ऐसे में महिलाओं के लिए इन नियमों का पालन करना जरूरी होता है। इन्हीं नियमों में से एक नियम यह है कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं को पूजा-पाठ करने की मनाही होती है। इसके अलावा इन दिनों महिलाओं के लिए मंदिर जाना भी वर्जित होता है। आइए आपको बताते हैं कि पीरियड्स के दौरान पूजा-पाठ क्यों नहीं करना चाहिए। 
विज्ञापन
विज्ञापन

पीरियड्स के दौरान पूजा-पाठ क्यों नहीं किया जाता? 

पीरियड्स के दौरान महिलाओं को पूजा-पाठ नहीं करना चाहिए। यह मान्यता प्राचीन काल से चली आ रही है। कहा जाता है कि उस समय महिलाओं के शरीर में अधिक ऊर्जा प्रवाहित होती है। माना जाता है कि भगवान इस ऊर्जा को सहन नहीं कर पाते। जैसे कि अगर कोई महिला पीरियड्स के दौरान तुलसी पर जल चढ़ाती है तो तुलसी सूख जाती है। इसी तरह भगवान भी इस ऊर्जा को सहन नहीं कर पाते। इसी वजह से पीरियड्स के दौरान पूजा-पाठ वर्जित होता है।


विज्ञापन


पीरियड्स के कितने दिन बाद तक पूजा-पाठ करना चाहिए?

पीरियड्स के 5वें दिन आप बाल धोकर पूजा में शामिल हो सकती हैं। कुछ महिलाओं को 7 दिनों तक पीरियड्स होते हैं। लेकिन आप 5 दिन बाद बाल धोकर पूजा का हिस्सा बन सकती हैं।

व्रत के दौरान पीरियड्स आने पर क्या करें?

कई बार व्रत के दौरान महिलाओं को पीरियड्स आ जाते हैं। ऐसे में समझ नहीं आता कि पूजा करें या नहीं। जानकारों के मुताबिक, ऐसी स्थिति में व्रत तो रखना चाहिए लेकिन उस दौरान पूजा नहीं कर सकते। वहीं, इस व्रत की गिनती नहीं होती। ऐसे में आपको पूजा किसी और से करवानी चाहिए।

पूजा के अलावा पीरियड्स के दौरान ये काम भी वर्जित हैं

पीरियड्स के दौरान महिलाओं को कई नियमों का पालन करना पड़ता है। इस दौरान महिलाओं को अचार छूने से मना किया जाता है। कहा जाता है कि इससे अचार खराब हो सकता है। कुछ जगहों पर किचन में खाना बनाने की भी मनाही होती है।


यह भी पढ़ें:-
Palmistry: हस्तरेखा में इन रेखाओं को माना जाता है बेहद अशुभ, व्यक्ति के जीवन में लाती हैं दुर्भाग्य
Upnayan Sanskar: क्या होता है उपनयन संस्कार जानिए महत्व और संस्कार विधि
Worshipping Trees: हिंदू धर्म में पेड़ों की पूजा का क्या है महत्व जानिए
विज्ञापन