विज्ञापन
Home  dharm  banyan tree worship know the importance of worshiping the banyan tree

Bargad Ke Ped Kee Pooja: बरगद के पेड़ की पूजा का क्या है महत्व जानिए

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Mon, 24 Jun 2024 06:07 AM IST
सार

Bargad Ke Ped Kee Pooja:हिंदू धर्म में बरगद के पेड़ को देव वृक्ष माना जाता है। मान्यता के अनुसार बरगद के पेड़ में भगवान ब्रह्मा, श्री हरि और शिव का वास होता है। बरगद के पेड़ों की आयु सबसे लंबी होती है,

बरगद के पेड़
बरगद के पेड़- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Bargad Ke Ped Kee Pooja:हिंदू धर्म में बरगद के पेड़ को देव वृक्ष माना जाता है। मान्यता के अनुसार बरगद के पेड़ में भगवान ब्रह्मा, श्री हरि और शिव का वास होता है। बरगद के पेड़ों की आयु सबसे लंबी होती है, इसलिए इसे 'अक्षयवट' भी कहा जाता है। देव वृक्ष होने के कारण बरगद के पेड़ की पूजा का भी विशेष स्थान है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अखंड सौभाग्य, स्वास्थ्य और सुख-समृद्धि के लिए बरगद के पेड़ की पूजा की जाती है। आइए जानते हैं बरगद के पेड़ की पूजा का क्या महत्व है।

विज्ञापन
विज्ञापन

बरगद के पेड़ की पूजा का क्या महत्व है Baragad Ke Ped Kee Pooja Ka Kya Mahatv Hai.

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान शिव ने भी बरगद के पेड़ के नीचे ध्यान लगाकर तपस्या की थी। बरगद के पेड़ के पत्ते पर भगवान कृष्ण ने मार्कंडेय को दर्शन दिए थे। अक्षयवट में देवी सावित्री भी निवास करती हैं। मान्यता है कि देवी सावित्री ने बरगद के पेड़ के नीचे बैठकर यमराज से अपने पति सत्यवान के प्राण बचाए थे। इसलिए इसे वट सावित्री भी कहा जाता है। चूंकि बरगद के पेड़ में देवताओं का वास होता है, इसलिए इसकी पूजा करने से सुख-शांति मिलती है। इसके साथ ही  बरगद के पेड़ की पूजा करने से लंबी आयु और सभी तरह के कलह-क्लेशों से मुक्ति मिलती है। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है और अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। बरगद के पेड़ की जड़ में ब्रह्मा, तने में भगवान विष्णु और शाखाओं में देवों के देव महादेव का वास होता है। इसके अलावा पेड़ की जो शाखाएं नीचे की ओर लटकती हैं, उन्हें मां सावित्री कहा जाता है। इसी वजह से बरगद के पेड़ की पूजा करने से त्रिदेवों का आशीर्वाद मिलता है और देवी सावित्री की कृपा बनी रहती है।

विज्ञापन


बरगद के पेड़ की पूजा करने के फायदे  Baragad Ke Ped Kee Pooja Karane Ke Fayde 

शास्त्रों में बरगद के पेड़ के कई उपाय भी बताए गए हैं। बरगद के पेड़ के नीचे घी का दीपक जलाने से व्यापार में लाभ मिलता है। अगर कोई लंबे समय से बीमार रहता है तो उसके तकिए के नीचे बरगद के पेड़ की जड़ रखना लाभकारी होता है। बरगद के पेड़ के नीचे बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करने से मानसिक तनाव से मुक्ति मिलती है। घर में मंदिर के पास बरगद के पेड़ की टहनी रखने से परिवार में सकारात्मक माहौल बना रहता है। बरगद के पेड़ का उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है, जो कई प्रकार की बीमारियों में राहत पहुंचाता है।
 

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय

विज्ञापन