विज्ञापन
Home  dharm  ashadha amavasya 2024 what is the significance of amavasya of ashadh month know the method of worship and th

Ashadha Amavasya 2024: क्या है आषाढ़ मास की अमावस्या का महत्व , जानिए पूजा विधि और सही तिथि

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Tue, 25 Jun 2024 06:07 AM IST
सार

Ashadha Amavasya 2024: अमावस्या का हिन्दु धर्म में बहुत अधिक महत्व माना जाता है आपको बता दें कि हर महीने अमावस्या का त्योहार मनाया जाता है पूरे साल में 12 अमावस्या पड़ती हैं और हर अमावस्या का अपना अलग-अलग महत्व है।

अमावस्या
अमावस्या- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Ashadha Amavasya 2024: अमावस्या का हिन्दु धर्म में बहुत अधिक महत्व माना जाता है आपको बता दें कि हर महीने अमावस्या का त्योहार मनाया जाता है पूरे साल में 12 अमावस्या पड़ती हैं और हर अमावस्या का अपना अलग-अलग महत्व है। जुलाई महीने में पड़ने वाली अमावस्या को आषाढ़ अमावस्या कहा जाता है । इस अमावस्या को  हलहारिणी अमावस्या भी कहा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु और शिव की पूजा की जाती है चलिए आपको बताते हैं कि इस साल आषाढ़ अमावस्या किस दिन मनाई जाएगी और इस दिन किस विधि से पूजा करना चाहिए 
विज्ञापन
विज्ञापन

कब मनाई जाएगी आषाढ़ मास की अमावस्या  Kab Manayi Jayegi Ashadha maas Ki Amavasya

पंचांग के अनुसार, आषाढ़ माह के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि 05 जुलाई 2024 को सुबह 04 बजकर 57 मिनट पर शुरू होगी। वहीं, इसका समापन अगले दिन यानी 06 जुलाई को 04 बजकर 26 मिनट पर होगा। ऐसे में आषाढ़ अमावस्या का पर्व 05 जुलाई 2024 को मनाया जाएगा।

किस विधि से करें अमावस्या की पूजा Kis Vidhi Se Kare  Amavasya Ki Pooja 

अमावस्या के दिन सुबह उठें और भगवान का ध्यान करें 
इसके बाद गंगा स्नान करें अगर आपके आस - पास पवित्र नदी नहीं है तो गंगाजल पानी में डालकर स्नान करें 
स्नान करने के बाद भगवान सूर्य को जल चढ़ाएं 
 भगवान विष्णु और शिव  की सच्चे मन से उपासना करें 
अमावस्या के दिन पितरों का तर्पण जरूर करें ऐसा करने से उनकी आत्मा को शांति मिलेगी 
इसके साथ ही शुभ फल पाने के लिए अपनी श्रद्धा के अनुसार गरीबों में पैसे और वस्त्रों का  दान करें 

विज्ञापन

आषाढ़ अमावस्या के दिन क्या करें Ashadha Amavasya Ke Din Kya Kare

आषाढ़ अमावस्या पर पवित्र नदियों में स्नान जरूर करें 
आषाढ़ अमावस्या पर सूर्य देव को जल जरूर चढ़ाएं
आषाढ़ अमावस्या पर अपनी श्रद्धानुसार गरीबों और ब्राह्मणों को दान जरूर  करें 
इस दिन आटे की गोलियां बनाकर मछलियों को खिलाएं 
इस दिन पीपल के पेड़  की पूजा करें, दीपक जलाएं ,परिक्रमा भी जरूर करें 
आषाढ़ अमावस्या के दिन शक्कर मिला हुआ आटा चीटियों को खिलाएं 

क्या है आषाढ़ अमावस्या का महत्व ?  Kya Hai Ashadha Amavasya Ka Mahatv

आषाढ़ महीने की अमावस्या का हिन्दु धर्म में बहुत अधिक महत्व माना जाता है आपको बता दें कि आषाढ़ महीने की अमावस्या को हलहारिणी अमावस्या भी कहते हैं। आषाढ़ महीने की अमावस्या के दिन किसान अपने हल और खेती से जुड़े सभी औजारों की पूजा करते हैं इसके साथ ही इस दिन लोग पवित्र नदियों में स्नान जरूर करते हैं ऐसी मान्यता है कि इस दिन स्नान करने से व्यक्ति  को जन्म और मृत्यु के बंधन से मुक्ति मिलती है इसके साथ ही अमावस्या तिथि पितरों के तर्पण के लिए भी उत्तम मानी जाती है आप इस दिन अपने पितरों की आत्मा के लिए तर्पण  कर सकते हैं इसके अलाव अमावस्या के दिन दान करने का भी विशेष महत्व माना जाता है 
 

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय

विज्ञापन