विज्ञापन
Home  astrology  which zodiac signs should wear manikya gem benefits to wear ruby stone when and how to wear manikya gem

Manikya Ratna: किन राशियों के लिए शुभ होता है माणिक्य रत्न? जानें धारण करने की सही विधि, लाभ और नियम

जीवांजलि Published by: निधि Updated Wed, 19 Jun 2024 02:47 PM IST
सार

Manik Stone Benefits: मेष, सिंह और धनु राशि के लोग माणिक्य धारण कर सकते हैं। इसके आलवा कन्या, मकर, मिथुन, तुला और कुंभ लग्न के लोगों को माणिक्य नहीं पहनना चाहिए। इससे उन्हें नुकसान होगा।
 

ruby gemstone
ruby gemstone- फोटो : JEEVANJALI

विस्तार

Manik Stone Benefits:जीवन में रत्नों का अपना अलग ही महत्व है। रत्नों को न केवल आभूषण के रूप में पहना जाता है बल्कि इनका अपना ज्योतिषीय प्रभाव भी होता है। अक्सर लोग भ्रमित होकर नाम राशि के आधार पर रत्न पहन लेते हैं लेकिन यह बिल्कुल भी सही नहीं है। व्यक्ति को जन्म कुंडली और जन्म कुंडली के पूर्ण विश्लेषण के आधार पर राशि के अनुसार रत्न धारण करना चाहिए। व्यक्ति को कभी भी नीच या अशुभ ग्रह का रत्न नहीं पहनना चाहिए। अगर आपका शुभ ग्रह अस्त है या कमजोर हो गया है तो उसके दुष्प्रभाव को कम करने के लिए रत्न धारण करना चाहिए।

जैसा कि आप जानते हैं ज्योतिष शास्त्र में 84 रत्नों और उपरत्नों का उल्लेख है, जिनमें से केवल नौ रत्नों को ही नवरत्न कहा जाता है। बाकी सभी उपरत्न कहलाते हैं। इन नवरत्नों में सबसे प्रमुख रत्न माणिक्य है। आइये जानते हैं माणिक्य के बारे में। माणिक्य सूर्य ग्रह का रत्न है। सूर्य को ग्रहों का राजा माना जाता है। अगर आपकी कुंडली में सूर्य कमजोर अवस्था में है तो आपको माणिक्य धारण करना चाहिए।

विज्ञापन
विज्ञापन


किन राशियों को पहनना चाहिए माणिक्य रत्न? (Which Zodiac Signs Should Wear Ruby gemstone?)

-आपको बता दें मेष, सिंह और धनु राशि के लोग माणिक्य रत्न धारण कर सकते हैं।

- इसके आलवा कर्क, वृश्चिक और मीन लग्न वालों को माणिक्य सामान्य फल देता है।

-यदि किसी व्यक्ति के धन भाव, दशम भाव, नवम भाव, पंचम भाव, एकादश भाव में सूर्य उच्च स्थिति में हो तो भी वे माणिक्य धारण कर सकते हैं।

किस राशि के लोगों को इसे नहीं पहनना चाहिए? (People Of These Zodiac Signs Should Not Wear Ruby gemstone?)

- कन्या, मकर, मिथुन, तुला और कुंभ लग्न के लोगों को माणिक्य नहीं पहनना चाहिए। इससे उन्हें नुकसान होगा।

-लजिन लोगों की जन्म कुंडली में सूर्य नीच स्थिति में है उन्हें माणिक्य नहीं पहनना चाहिए।

विज्ञापन

जानिए माणिक्य धारण करने की विधि (Method Of Wearing Ruby)

-लमाणिक्य धारण करने से पहले ध्यान रखें कि माणिक्य का रंग गुलाबी या लाल होना चाहिए।

- वजन की बात करें तो कम से कम 6 से 7.25 रत्ती का माणिक्य धारण करना चाहिए।

-माणिक्य को सोने या तांबे की धातु में पहनना चाहिए।

-लमाणिक्य धारण करते समय ध्यान रखें कि इसे सूर्योदय के एक घंटे बाद पहनना चाहिए।

- माणिक्य रत्न को सूर्योदय के एक घंटे बाद पहनें।

- माणिक्य धारण करने से पहले अंगूठी को गाय के दूध और गंगाजल से शुद्ध करें। मंदिर में बैठकर ओम सूर्याय नमः मंत्र का एक माला जाप करें और फिर अंगूठी पहन लें।

किस धातु के साथ पहने माणिक्य रत्न? (With Which Metal Should Ruby Gemstone Be Worn)

माणिक्य रत्न का गुलाबी या लाल रंग का परदर्शी होना चाहिए। इसे बनवाने के लिए सबसे उपयुक्त धातु सोना या तांबा है।

इस दिन धारण करना चाहिए माणिक्य रत्न  (Should Ruby Gemstone Be Worn On This Day?)

माणिक्य धारण करने के लिए सबसे उत्तम दिन शुक्ल पक्ष का रविवार माना गया है। जबकि इसे धारण करने के लिए अनामिका उंगली और दोपहर के वक्त शुभ मुहूर्त का चयन करना चाहिए। 

अच्छे भाव में सूर्य है तो माणिक्य रत्न जरूर पहनें (Manikya Ratna Strong Sun Confidence) 

यदि आपकी जन्म कुंडली मेष, सिंह और धनु राशि की है और सूर्य आपके शुभ भाव में विराजमान हैं। शुभ भाव से तात्पर्य है कि यदि सूर्य आपके लग्न भाव, चौथे भाव, पंचम भाव, नवम भाव, दशम भाव या एकादश भाव में स्थित हैं तो  माणिक्य रत्न आपको यश, मान, प्रतिष्ठा व्यापर और समृद्धि प्रदान करेगा। 

माणिक्य के साथ ना पहने ये रत्न? (Do Not Wear This Gemstone With Ruby)

माणिक्य के साथ हीरा, नीलम, ओपल और गोमेद नहीं पहनना चाहिए। माणिक्य के साथ पीला पुखराज पहनना शुभ होता है। 

माणिक रत्न पहने के फायदे (Benefits Of Wearing Ruby Gemstone)

 रत्न शास्त्र में माणिक रत्न को एक महत्वपूर्ण रत्न माना गया है। आइए जानते हैं इस रत्न के फायदों के बारे में...  

1, रत्न शास्त्र के अनुसार, यदि आप नौकरी संबंधित परेशानी का सामना कर रहे हैं तो आपको माणिक रत्न पहनना चाहिए। इसे रूबी रत्न भी कहा जाता है। ये रत्न आपके लिए लाभकारी साबित होगा।

2, रत्न शास्त्रों के अनुसार, जो व्यक्ति रूबी यानी माणिक रत्न धारण करता है, उसमें नेतृत्व करने की क्षमता काफी देखने को मिलती है। साथ ही उसे सरकारी सेवाओं के पदों से बहुत समर्थन और प्रशंसा प्राप्त होती हैं।

3, रत्न शास्त्र के अनुसार, इस रत्न को धारण करने से व्यक्ति में आत्मविश्वास की क्षमता बढ़ जाती है। ज्योतिष के अनुसार, जो व्यक्ति इसे धारण करता है, उसके व्यक्तित्व में काफी निखार आता है। साथ ही इसे धारण करने से आंखों की रोशनी और रक्त परिसंचरण में सुधार होता है।

5.कमजोर सूर्य वाले लोगों के लिए ये रत्न अच्छा माना जाता है। इसके अलावा जिस व्यक्ति में अपाचे, पीलिया दस्त, हाई और लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं से ग्रसित है उनके लिए माणिक रत्न बेहद लाभकारी होता है।

रत्न धारण करते समय रखें इस बात का ध्यान (Keep This In Mind While Wearing A Gemstone)

जब भी रत्न धारण करें तब आप पहले लग्न चार्ट/चंद्र कुंडली/ और नवमांश कुंडली चार्ट जरूर देखें, इसके बाद ज्योतिष की सलाह अनुसार ही रत्न धारण करें। 

विज्ञापन