विज्ञापन
Home  astrology  vastu  roti vastu niyam why rotis should not be made by counting them know some rules related to roti

Roti Vastu Niyam: क्यों नहीं बनानी चाहिए गिनकर रोटियां, जानिए रोटी से जुड़े कुछ नियम

जीवांजलि धार्मिक डेस्क Published by: कोमल Updated Sun, 23 Jun 2024 06:07 AM IST
सार

Roti Vastu Niyam: घर में खाना बनाते समय गृहणियाँ हमेशा इस बात का ध्यान रखती हैं कि खाना भले ही थोड़ा ज़्यादा पकाया जाए, लेकिन कम नहीं होना चाहिए। साथ ही कई बार यह भी कोशिश की जाती है कि रोटी बच जाने पर बर्बाद न हो  

क्यों नहीं बनानी चाहिए गिनकर रोटियां
क्यों नहीं बनानी चाहिए गिनकर रोटियां- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Roti Vastu Niyam: घर में खाना बनाते समय गृहणियाँ हमेशा इस बात का ध्यान रखती हैं कि खाना भले ही थोड़ा ज़्यादा पकाया जाए, लेकिन कम नहीं होना चाहिए। साथ ही कई बार यह भी कोशिश की जाती है कि रोटी बच जाने पर बर्बाद न हो  इसके लिए रोटियों की गिनती शुरू हो जाती है। ऐसा कई घरों में देखने को मिलता है, जहां खाना बनाने से पहले परिवार के सदस्यों से रोटी के बारे में पूछा जाता है और एक निश्चित संख्या लेकर रोटियां बनाई जाती हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि वास्तु शास्त्र के अनुसार रोटियों को गिनकर बनाना बिल्कुल भी सही नहीं है। ऐसा करने से आपके घर में धन की कमी हो सकती है और आपकी आर्थिक स्थिति भी कमजोर हो सकती है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रोटियों को गिनकर क्यों नहीं बनाना चाहिए?

ज्योतिष शास्त्र में गेहूं का संबंध धन से माना गया है। सूर्य को नौ ग्रहों का राजा माना जाता है, ऐसे में इसके आटे से बनी रोटी हर व्यक्ति को प्रभावित करती है। इसलिए  जीवन में सौभाग्य और आरोग्य का वरदान देने वाले सूर्य की कृपा पाने के लिए गेहूं के आटे की रोटी बनाते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। मान्यता है कि चूल्हे पर रोटी बनाते समय सूर्य की कृपा से अग्नि में  प्रज्वलित हो जाती है। इसलिए रोटी की संख्या कभी नहीं गिननी चाहिए क्योंकि इससे सूर्य देव का अपमान होता है, जिसके कारण व्यक्ति को सूर्य से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

रोटी किस दिशा में बनानी चाहिए

रसोई की दिशा भी रोटी से जुड़ी हुई है। वास्तु के अनुसार आपका किचन दक्षिण-पूर्व कोने यानी अग्नि कोण में होना चाहिए। रोटी बनाते समय आपका मुख पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। साथ ही, कोशिश करें कि गैस या चूल्हा कभी भी दक्षिण दिशा में न रखें,  इस दिशा में मुंह करके रोटी बनाना शुभ नहीं माना जाता है।
विज्ञापन


रोटी बनाने के बाद करें ये काम

गाय को दें पहली रोटी

हिंदू धर्म में रोटी से जुड़ा एक नियम यह है कि पहली रोटी गाय को दी जाती है। ऐसा माना जाता है कि गाय को रोटी खिलाने से धन की वृद्धि होती है। आपके अच्छे कर्म. इसके अलावा पहली रोटी गाय को खिलाने से आपके ग्रह मजबूत होते हैं। साथ ही घर में चल रही परेशानियों से भी मुक्ति मिलती है।

आखिरी रोटी कुत्ते के लिए रखें
जिस तरह पहली रोटी गाय के लिए शुभ मानी जाती है, उसी तरह आखिरी रोटी कुत्ते के लिए सुरक्षित रखनी चाहिए ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुत्ते को रोटी खिलाने से पुण्य बढ़ता है और भगवान की असीम कृपा भी प्राप्त होती है। इतना ही नहीं कुत्ते को रोटी खिलाने से राहु, केतु और शनि का प्रभाव कम होता है।

इस दिन घर में रोटी न बनाएं

शरद पूर्णिमा, शीतलाष्टमी, नागपंचमी और किसी की मृत्यु पर घर में रोटी नहीं बनाई जाती है। इसे अशुभ माना जाता है अगर किसी की मृत्यु पर घर में रोटी बनाई जाए तो इससे आपकी सेहत को नुकसान पहुंचता है। साथ ही मृतक की आत्मा को शांति नहीं मिलती।
 

Akshat Puja: पूजा में क्यों चढ़ाया जाता है अक्षत, जानिए अक्षत का महत्व

Lord Vishnu: भगवान विष्णु को क्यों कहा जाता है नारायण ? जानिए इसके पीछे की कहानी

Shani Upay: कैसे पहचानें कुंडली में कमजोर शनि के लक्षण? जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के उपाय

विज्ञापन