विज्ञापन
Home  astrology  vastu  kachhuye ki anguthi pehnane ke niyam on which finger should the turtle ring be worn

Kachhuye Ki Anguthi Pehnane Ke Niyam: आप भी पहनते हैं कछुए की अंगूठी, तो हो जाएं सावधान

जीवांजलि धर्म डेस्क Published by: निधि Updated Sat, 29 Jun 2024 06:30 AM IST
सार

Kachhuye Ki Anguthi Pehnane Ke Niyam: कछुए वाली अंगूठी इन दिनों काफी चलन में है। यह अंगूठी अधिकतर लोगों के हाथों में देखी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि कछुए वाली अंगूठी न सिर्फ आकर्षक दिखती है,

Kachhuye Ki Anguthi Pehnane Ke Niyam
Kachhuye Ki Anguthi Pehnane Ke Niyam- फोटो : jeevanjali

विस्तार

Kachhuye Ki Anguthi Pehnane Ke Niyam: कछुए वाली अंगूठी इन दिनों काफी चलन में है। यह अंगूठी अधिकतर लोगों के हाथों में देखी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि कछुए वाली अंगूठी न सिर्फ आकर्षक दिखती है, बल्कि यह धन और समृद्धि को भी अपनी ओर आकर्षित करती है। जिस तरह चीनी वास्तु शास्त्र फेंगशुई में लाफिंग बुद्धा, तीन टांगों वाले मेंढक और चीनी सिक्कों का महत्व बताया गया है, उसी तरह कछुए वाली अंगूठी का भी विशेष महत्व माना जाता है। कहा जाता है कि कछुए वाली अंगूठी पहनने से दुर्भाग्य दूर होता है। जो भी व्यक्ति कछुए वाली अंगूठी पहनता है, उस पर देवी लक्ष्मी की भी कृपा होती है। ऐसे लोगों के जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। तो चलिए आज जानते हैं कछुए वाली अंगूठी पहनने की सही विधि और इसे पहनने से होने वाले फायदों के बारे में...
विज्ञापन
विज्ञापन

कछुए की अंगूठी पहनने के फायदे

वास्तु शास्त्र के अनुसार, जो व्यक्ति कछुए की अंगूठी पहनता है, उसे अपने जीवन में सभी तरह की सुख-सुविधाएं और धन-संपत्ति प्राप्त होती है। इसके अलावा आर्थिक तंगी दूर होती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, कछुए को भगवान विष्णु का कच्छप अवतार माना जाता है। यह अवतार भगवान विष्णु ने समुद्र मंथन के समय लिया था। इस अंगूठी को पहनने से आत्मविश्वास बढ़ता है, साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह भी बढ़ता है।

इन राशियों के लोगों को बिना सलाह के इसे नहीं पहनना चाहिए

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मेष, कर्क, वृश्चिक और मीन राशि के लोगों को इसे ज्योतिषीय परामर्श के बिना नहीं पहनना चाहिए। इससे उन्हें ग्रह दोषों के कारण बड़ा नुकसान हो सकता है।
विज्ञापन

कछुए की अंगूठी पहनते समय नियमों का पालन करें

कछुए की अंगूठी पहनते समय नियमों का पालन करना चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, अगर कछुए की अंगूठी पहनी जाए, तो यह धन के नए रास्ते खोलती है। वास्तु कहता है कि अगर जीवन में सुख-सुविधाओं की कमी है, पैसों की कमी है, सुख-शांति कम हो रही है तो कछुए की अंगूठी पहनने से जीवन में अच्छे बदलाव आते हैं।

कछुए की अंगूठी चांदी में बनवाएं

इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि कछुए की अंगूठी सोने की नहीं बल्कि चांदी में बनवाएं। इसके अलावा कछुए की पीठ पर 'श्री' अंकित करवाएं। ध्यान रखें कि श्री अंकित करवाते समय 'ई' की ध्वनि बाहर यानी आपकी उंगली की तरफ होनी चाहिए और श्री आपकी तरफ होनी चाहिए।

कछुए की अंगूठी को ऐसे पहनें

कछुए की अंगूठी को पहनने से पहले इसे कच्चे गाय के दूध में डालें और फिर गंगाजल से शुद्ध करें। इसके बाद इसे देवी लक्ष्मी के सामने रखें और इसकी पूजा करने के बाद श्री सूक्त का पाठ करें। इसके बाद इसे धारण करें। ऐसा करने से देवी लक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

इस उंगली में पहनें अंगूठी

कछुआ अंगूठी पहनते समय सबसे पहले इस बात का ध्यान रखें कि कछुए का मुंह आपकी तरफ होना चाहिए। इससे धन आपकी तरफ आकर्षित होगा और परिवार में धन-संपत्ति और खुशियां आएंगी। अंगूठी को दाएं हाथ की मध्यमा या उसके पास वाली तर्जनी उंगली में पहनें। किसी अन्य उंगली में न पहनें। ध्यान रखें कि अगर कछुए का मुंह आपके चेहरे के विपरीत दिशा में है तो यह आपके लिए अच्छा नहीं होगा। आपको आर्थिक नुकसान हो सकता है क्योंकि पैसा आने की बजाय जाने लगेगा।
विज्ञापन